सुशांत सिंह राजपूत डेथ केस में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) मनी लॉन्डरिंग के एंगल से जांच कर रहा है। पूछताछ के सिलसिले में सुशांत की गर्ल फ्रेंड रहीं रिया चक्रवर्ती, उनके भाई शोविक और पिता इंद्रजीत ईडी दफ्तर पहुंच चुके हैं। इस बीच एक रिपोर्ट में बताया गया है कि सुशांत की एक कंपनी का आईपी एड्रेस एक साल में 18 बार बदला गया था। इसे 3 बार अभिनेता की मौत के बाद बदला गया। इतना ही नहीं कंपनी का डोमेन भी बदला गया था। हालांकि, अभी इसका कारण पता नहीं चला है।

7 अगस्त को आखिरी बार बदला गया आईपी एड्रेस

इंडिया टीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, सुशांत की कंपनी का आईपी एड्रेस आखिरी बार 7 अगस्त को बदला गया था। यही वह दिन था, जब पहली बार रिया ईडी की पूछताछ में शामिल हुई थीं। ईडी इसका कारण पता करने की कोशिश कर रहा है।

कंपनी सुशांत की, लेकिन दस्तखत शोविक के चलते थे

सूत्रों की मानें तो सुशांत ने अपनी 4 कंपनियों में से 2 का पेटेंट कराया था। इनमें से एक कंपनी विविड्रेज रियलिटी एक्स प्राइवेट लिमिटेड के डायरेक्टर रिया और शोविक थे। सुशांत ने स्टार्टअप के तहत इस कंपनी को सितंबर 2019 में रजिस्टर्ड करवाया था। यह एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर आधारित गेमिंग कंपनी थी, जिसके पेंटट के लीगल राइट्स रिया, शोविक और सुशांत के पास हैं।

अगर इस पेटेंट को बेचा जाए तो करोड़ों की कमाई हो सकती है। सूत्रों के मुताबिक यह पूरा मामला संदेहास्पद है। दरअसल, इस कंपनी को सुशांत ने शुरू किया था, लेकिन इस पर मालिकाना हक और दस्तखत शोविक चक्रवर्ती के चलते थे।

रिया ने 2 साल में बनाई 3 करोड़ की प्रॉपर्टी

रिया ने सिर्फ 2 साल में 3 करोड़ की प्रॉपर्टी बना ली। इनमें से एक वन बीचएचके फ्लैट खार में हैं, जिसकी कीमत एक करोड़ रुपए है। दूसरी प्रॉपर्टी जुहू में है, जहां रिया परिवार के साथ रहती हैं। इसकी कीमत करीब डेढ़ करोड़ रुपए है। जबकि तीसरी प्रॉपर्टी नवी मुंबई के उल्वा में है, जो 50 लाख रुपए की है।

अब तक सबसे लंबी पूछताछ रिया के भाई से हुई

मनी लॉन्डरिंग के इस केस में अब तक सबसे लंबी पूछताछ शोविक से हुई। 7 अगस्त को उनसे करीब 5 घंटे और 8 अगस्त को करीब 18 घंटे पूछताछ की गई। 9 अगस्त की सुबह लगभग 6:25 बजे उन्हें घर जाने दिया गया। यानी कि अब तक उनसे 23 घंटे से ज्यादा पूछताछ हो चुकी है। 10 अगस्त वे फिर ईडी के दफ्तर पहुंचे हैं।

रिया के सीए रितेश शाह और सुशांत की पूर्व मैनेजर श्रुति मोदी से 7 अगस्त को पूछताछ हुई थी। उन्हें भी 10 अगस्त को दोबारा ईडी ऑफिस बुलाया गया। सुशांत के फ्लैट पर उनके साथ रहने वाले दोस्त सिद्धार्थ पिठानी भी ईडी ऑफिस पहुंचे हैं। उन्हें पहले 8 अगस्त का नोटिस दिया गया था, लेकिन वे नहीं पहुंचे थे।

रिपोर्ट्स की मानें सुशांत के दोस्त संदीप सिंह को भी पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है। दोनों के बीच पैसों के लेनदेन की बात भी ईडी के सामने आई है।